Atiq-Ashraf murder case में चार्जशीट दाखिल की |

Atiq-Ashraf murder case

Atiq-Ashraf murder case में  दोनों भाईओं की 15 अप्रैल 2023 को प्रयागराज के  कॉल्विन हॉस्पिटल के बाहर हत्या कर दी थी। सरकार द्वारा गठित इस हत्याकांड के मामले में एसआईटी  ने गुरुवार को कोर्ट में चार्जशीट दाखिल कर दी। एसआईटी गठित,जांच दल द्वारा 2000 पन्ने की चार्जशीट में शूटर सनी सिंह को ही इस हत्याकांड का मुख्य साजिशकर्ता बताया है। इस हत्याकांड में सनी सिंह, लवलेश तिवारी और अरुण मौर्य को मिलाकर इस वारदात को अंजाम दिया गया था। एसआईटी गठित टीम द्वारा 3 महीने चली जांच और पूछताछ में Atiq-Ashraf murder case के पीछे किसका हाथ था ये पता लगाने में विफल रही।Atiq-Ashraf murder case

कोर्ट में एसआईटी द्वारा 150 गवाहों की सूची और 70 सीसीटीवी फुटेज की सीडी सौंपी गई एसआईटी विशेष जांच दल द्वारा अतीक और अशरफ हत्याकांड में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट को 150 गवाओं की सूची और 70 सीसीटीवी की फुटेज सौंपी गई है। हॉस्पिटल से लेकर जिस होटल में तीनों आरोपी ठहरे हुए थे और वहां तक के 70 सीसीटीवी कैमरों को खंगाला गया था। उसकी फुटेज भी कोर्ट में सबूत के तौर पर सीडी पेश की गई है। इन गवाओं  में 21 पुलिसकर्मी, 15 मेडिकल स्टाफ और 8 मीडिया कर्मी व अन्य सामान्य लोग शामिल हैं। इस जांच विशेष दल एसआईटी में अपर पुलिस आयुक्त सतीश चंद्र ,सहायक पुलिस आयुक्त सत्येंद्र तिवारी और स्पेक्टर ओमप्रकाश सदस्य थे। 90 दिन चली इस जांच ,पूछताछ और साक्ष्यों के सामने आने के बाद भी एसआईटी ने यह पता नहीं लगा पाया कि अतीक और अशरफ के पीछे कौन था?इस पूरे हत्याकांड में एसआईटी ने सनी सिंह को ही Atiq-Ashraf murder case का मास्टरमाइंड बताया है। इस घटना को अंजाम 15 अप्रैल 2023 की रात 10:30 बजे सनी सिंह ,अरुण मौर्य और कमलेश तिवारी ने माफिया अतीक अहमद और उसके भाई अशरफ  की कॉल्विन अस्पताल के बाहर गोली मारकर हत्या कर दी और मौके पर ही तीनों आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था।

adminkuldeep103

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *